Ghazipur news:हेडमास्टर पर लगा वित्तीय घोटाले का आरोप

750

गाजीपुर-मामला प्राथमिक विद्यालय बिशुनपुरा शिक्षाक्षेत्र ,करंडा ,गाजीपुर का है। जहां कुछ दिनों पहले विद्यालय के एस एम सी गठन में फर्जीवाड़ा व अनियमित ढंग से किये गये धन आहरण को लेकर स्थानीय निवासी हरिकेश यादव ने बी एस ए के यहां लिखित शिकायत दर्ज करवायी थी। उक्त शिकायत के क्रम में प्रधानाध्यापक विनोद पांडेय द्वारा शिकायतकर्ता को फोन करके शिकायत वापस लेने की धमकी दी गयी थी। उक्त प्रकरण मे बी एस ए श्री हेमंत राव ने अपना प्रभावी हस्तक्षेप करते हुये वहां के प्रधानाध्यापक व सहायक अध्यापक दोनों को निलंबित करते हुये जांच अधिकारी बी ई ओ देवकली श्री यू सी राय को नामित किया था।
हरिकेश यादव ने बी ई ओ देवकली को दूरभाष पर समस्त जानकारी भी दी गयी और उनके द्वारा यह आश्वस्त किया गया था कि शिकायत के समस्त बिंदुओं की निष्पक्ष जांच की जायेगी और शिकायतकर्ता को भी सुना जायेगा लेकिन ऐसा नहीं हुआ। हरिकेश यादव ने आरोप लगाया कि जांचकर्ता बी ई ओ देवकली प्राथमिक विद्यालय बिशुनपुरा पर उपस्थित हुये लेकिन शिकायतकर्ता को कोई सूचना नहीं दी गयी। इस प्रकार बिना शिकायतकर्ता को सुनें जांच किया जाना पक्षपात पूर्ण होगा। हरिकेश यादव द्वारा रजिस्टर्ड पत्र के माध्यम से विद्यालय के एस एम सी एकाउंट का डिटेल लगाते हुये बी ई ओ देवकली को अवगत कराया गया है कि प्रधानाथ्यापक द्वारा पूर्व वित्तीय वर्षों में अपने व अपनी पत्नी श्रीमती रंजना व भतीजे सोनू कुमार के नाम से विद्यालय का धन आहरित करते हुये घोर वित्तीय अनियमितता की गयी है। इस संदर्भ में जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को भी शिकायतकर्ता द्वारा पत्र प्रेषित किया जा चुका है। अगर निष्पक्ष जांच हुयी तो सारा दूध का दूध पानी का पानी हो जायेगा।

Play Store से हमारा App डाउनलोड करने के लिए नीचे क्लिक करें- Qries