Ghazipur(u.p.) इस गड्ढा युक्त सड़क पर चलने से गर्भवती महिलाओं का होता है गर्भपात

182

गाजीपुर। मुख्यमंत्री योगी तथा जिलाधिकारी द्वारा 15 नवम्बर तक प्रदेश तथा जनपद की सभी सड़कों को गड्ढामुक्त करने का दावा पूरी तरह से पूरा होता नहीं नजर आ रहा है। सैदपुर में एनएच 29 को तो ऐसा बना दिया गया है कि वो अगले कई सालों तक जर्जर नहीं होती दिख रही है, वहीं करीब 22 किमी के सैदपुर से भितरी वाया शादियाबाद मार्ग में आज भी अनेकों कई-कई फुट के गड्ढे हैं। जबकि मुख्यमंत्री की डेडलाइन खत्म होने में बस 3 दिन शेष हैं। लोगों का कहना है कि हाईवे से अधिकारियों व मंत्रियों को गुजरना होता है तो उसे बनवा दिया गया लेकिन जिस सड़क से सिर्फ आमजन को जाना है, उस सड़क को कई सालों से किसी ने नहीं बनवाया। उस रास्ते पर सवारी वाहन चलाने वाले चालकों ने बताया कि इसी मार्ग पर जिले की प्रथम नागरिक व जिला पंचायत अध्यक्ष सपना सिंह का पैतृक व भोजपुरी गायक व स्टार से सांसद बने दिनेश लाल निरहुआ का पैतृक आवास भी है। इसके बावजूद कई सालों से सड़क की दशा बेहद जर्जर है और सुधर नहीं रही है। एक चालक तो बताते हुए भावुक हो गया। उसने बताया कि एक माह पूर्व इसी सड़क से मैं अपनी गर्भवती पत्नी को लेकर आ रहा था। सड़क बेहद चौपट होने के चलते मेरी पत्नी का 3 माह का भ्रूण पेट में ही मर गया। बताया कि इस सड़क से गर्भवतियों को लेकर चलना खतरे से खाली नहीं है और इसके अलावा कोई सड़क भी नहीं है। लोगों ने कहा कि अब देखना है कि मुख्यमंत्री का गड्ढामुक्त सड़कों का आदेश इस सड़क पर काम आता है कि नहीं ?

Play Store से हमारा App डाउनलोड करने के लिए नीचे क्लिक करें- Qries