UP NEWS:दुशरी बार प्रदेश को मिलेगा राष्ट्रीय युवा पुरस्कार इस नौजवान की वजह से

301

गाजीपुर:युवा कार्यक्रम और खेल मंत्रालय भारत सरकार द्वारा प्रति वर्ष दिए जाने वाले राष्ट्रीय युवा पुरस्कार (एनवाईए 2019-2020) के लिए जनपद गाजीपुर के होनहार,कर्मठ युवा समाजसेवी सिद्धार्थ राय को समाज सेवा के क्षेत्र मे उत्कृष्ट कार्य करने के लिए चुना गया है। आजादी के बाद से सेवा संवर्ग मे अब तक उत्तर प्रदेश राज्य को मात्र एक बार यह पुरस्कार मिला था और यह प्रदेश के लिए भी महत्वपूर्ण है जो दुसरी बार यह पुरस्कार सामाजिक भावना से किए गये सिद्धार्थ राय के उत्तम कार्यों के लिए यह प्राप्त हो रहा है।
12-16 जनवरी तक कर्नाटक राज्य के हुबली शहर मे युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय द्वारा आयोजित “ राष्ट्रीय युवा महोत्सव “ जिसका उद्घाटन प्रधानमंत्री करेंगे में यह पुरस्कार ग्रहण करने के लिए रवाना होने से पहले सिद्धार्थ राय ने कहा कि मेरे जीवन के लिए यह सुखद क्षण है, जो इस राष्ट्रीय पुरस्कार के लिए हमे चुना गया है और हमे प्रसन्नता है कि इससे पुरे देश मे मेरे प्रदेश और जनपद को एक नयी उपलब्धि हासिल हुई है। सिद्धार्थ राय “ राष्ट्रीय युवा महोत्सव “ में शामिल होने हुबली , कर्नाटक एयरपोर्ट पर मंगलवार को पहुँचे जहाँ कर्नाटक सरकार पारंपरिक तरीक़े से गाज़ीपुर के लाल का स्वागत किया गया ।

सिद्धार्थ राय को इससे पहले भी उनके अप्रतिम सेवा कार्यों के लिए 2021 मे उत्तर प्रदेश कि राज्यपाल आनन्दी बेन पटेल द्वारा शाहजहांपुर मे तथा 2022 मे केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान द्वारा सेवा मित्र सम्मान से मध्यप्रदेश के उज्जैन मे सम्मानित किया जा चुका है।इसके अलावा भी ज़िले एवं प्रदेश स्तर पर ढेरों सम्मान अपनी छोटी सी उम्र में सिद्धार्थ राय को प्राप्त हो चुके हैं ।

अपनी उम्मीद संस्था के बैनर तले सिद्धार्थ लगातार समाज सेवा के क्षेत्र मे लगकर राष्ट्रीय संकल्पों के प्रति भारत यात्रा,पर्यावरण के क्षेत्र मे वृक्षारोपण, प्रभु कि रसोई के माध्यम से विगत एक वर्षो सैकड़ों लोगों को लगातार रेलवे स्टेशन एवं अन्य सार्वजनिक स्थानों पर भोजन वितरण तथा सेवा समर्पित विभिन्न विधाओं के स्थान खुरपी के प्रांगण मे पिछड़े ग्रामीण क्षेत्र के युवा बालक एवं बालिकाओं को ताइक्वांडो प्रशिक्षण के आलावा गरीब असहाय निर्धन लोगों के लिए शौचालय निर्माण तथा मार्गो को शौच क्रिया के स्थान बनने से रोकने हेतु जनजागरण अभियान को लगातार गति प्रदान कर रहे है। सिद्धार्थ ख़ुद एमबीए हैं , गोल्ड मेडलिस्ट हैं और एक बड़ी बहुराष्ट्रीय कंपनी में अपनी सेवा भी दे चुके हैं ।
सिद्धार्थ राय सामाजिक क्षेत्र कि पहचान बन चुके है और देश भर में उनसे प्रेरणा लेकर आगे बढ़ने को तैयार हज़ारों लोग आज सामाजिक कार्यों में अपना छोटा – बड़ा योगदान दे रहे हैं ।गाज़ीपुर ज़िला भी अपने आपको गौरवान्वित महसूस कर रहा है , यह पुरस्कार गाज़ीपुर में भी किसी को पहली बार मिलने जा रहा है ।

Play Store से हमारा App डाउनलोड करने के लिए नीचे क्लिक करें- Qries