आंगनबाडी -नही बनी बात 23 को लखनऊ के GPO पार्क मे धरना

लखनऊ – आंगनबाडी कर्मचारी एवं सहायिका एसोसिएशन के बैनर तले , पुरे उत्तर प्रदेश की आंगनबाडी कार्यकरतीयाँ और सहायिकाए 18 सितम्बर से मानदेय बृद्धी हेतू काम बन्द और कलम बन्द  हडताल पर है। प्रदेश मे सत्तारूढ भाजपा सरकार के मुखिया योगी आदित्य नाथ ने कहा था कि  ” प्रदेश मे यदि भाजपा की सरकार बनेगी तो 120 दिन के अन्दर आंगनबाडी कार्यकरतीयों और सहायिकाओं के मानदेय मे सम्मान  जनक बृद्धी की जायेगी। 120 दिन ब्यतित होनो पर आंगनबाडी कार्यकरतीयो एवं सहायिकाओं ने 17 अगस्त को लखनऊ के चार बाग स्टेशन से जी.पी.ओ. पार्क तक वादा याद दिलाओ नामक रैली निकाला था। उस दिन प्रदेश के मुख्यमंत्री ने आंगनबाडी कर्मचारी एवं सहायिका एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष गीतांजली मौर्या,प्रदेश उपाध्यक्ष सरिता सिह, प्रेदेश महामंत्री प्रभावती देबी, आशा बौद्ध से वर्ता मे एक माह का और समय माँगा था। उसी दिन एसोसिएशन के प्रतिनिधी मंण्डल ने मुख्यमंत्री से कह दिया था कि  यदि 17 सितम्बर तक हमारी मांगे नही मानी गयी तो हम काम बन्द -कलम बन्द हडताल करेगे,। 18 सितम्बर से पुरे उत्तर प्रदेश मे काम बन्द-कलम बन्द हडताल जारी है, कल प्रतिनिधी मंण्डल से वर्ता  विफल होने पर आंगनबाडी कर्मचारी एवं सहायिका एसोसिएशन का प्रान्तीय नेतृत्व ने 23 अक्टुबर को प्रदर्शन हेतू लखनऊ के जी०पी०ओ० पार्क मे संगठन के सभी सदस्यों बुलाया है।

Play Store से हमारा एप्प डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें Find us on Play Store