एक मार्ग ऐसा भी

गाजीपुर- मनिहारी विकास खण्ड के ग्राम सुरहुरपुर हरिचरन के पूर्व माध्यमिक विद्यालय तक जाने वाली सड़क अपनी बदहाली पर आंसु बहा रहा है । जिससे स्कूल में पढ़ने वाले छात्र – छात्राओ सहित अभिभावको को स्कूल पहुंचने मे परेशानी का सामना करना पड रहा है । विद्यालय में जाने के लिए एक ही रास्ता है और वह भी वर्षात के कारण किचड युक्त हो चुका है ।जिस से स्कूली बच्चों को मजबूरी में होकर गुजरना पड़ता है। देश के भविष्य कहे जाने वाले इन बच्चों में पढ़ने की ललक है,लेकिन सरकारी तंत्र इन्हे सहयोग करने के बजाय बाधक बन रहा है, स्कूली बच्चो का कहना है कि स्कूल जाने में कई बार किचड़ युक्त कच्ची सड़क पर गिर कर चोटिल हो जाते है तो कभी सड़क पर मोटरसाइकिल या ट्रेक्टर आदि गुजरते समय गंदा पानी किचड के छिटे बच्चों के कपड़े पर पड़ जाने से कपड़े गंदे होने के साथ भीग जाते है ।इस कारण पुरा दिन स्कूल में भीगे कपड़ो के साथ रहने के लिए मजबूर रहना पड़ता है । वही ग्रामीण पुर्व प्रधान मुराहू, सिंहासन सिंह, जवाहर सिंह, अजय सिंह, जैन कुमार सिंह, कालिका सिंह व क्षेत्र पंचायत प्रतिनिधि संतोष सिंह आदि का कहना है कि इस रास्ते को जल्द से जल्द खडंजा लगाया जाना चाहिए।ताकि बच्चो को परेशानी न हो।जबकि यह सड़क कार्ययोजना मे स्वीकृत होने के बाद भी न बनना ग्राम प्रधान की मंशा पर सवाल उठता है।इस सम्बंध मे स्कूल के प्रधानाध्याक मनिकराज प्रजापति ने बताया कि इस बाबत कई बार ग्राम प्रधान सहित उच्चाधिकारी को अवगत कराया गया है लेकिन अब तक कोई कार्यवाही नही हुई जिस कारण से बच्चो के साथ अध्यापको को भी स्कूल पहुचने में परेशानी होती है ।

Also Read:  गाजीपुर- पुरा शहर बेचैन है,लेकिन क्यो ? क्योंकि आज कत्ल की रात है