करण्डा – चिकित्साधिकारी, एएनएम व एक अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज

286

गाजीपुर- करण्डा पीएचसी पर बीते एक नवंबर को प्रसव पीड़िता अर्चना गोड़ का सामान्य प्रसव के दौरान स्वास्थ्य र्किमयों की लापरवाही से बच्चेदानी बाहर आने व अत्यधिक रक्तश्राव होने से मौत हो गई थी। इससे गुस्साए परिजनों व ग्रामीणों ने जमकर बवाल किया था। इस लापरवाही पर सीएमओ ने एएनएम गिरजा देवी को निलंबित करने के साथ पूरे मामले की जांच बैठा दी थी। वहीं मृतका के परिजनों की ओर से प्रभारी चिकित्साधिकारी डा. इमाम हुसैन सिद्दीकी, एएनएम गिरजा देवी व स्वास्थ्य कर्मी निरंजन चौधरी के खिलाफ पुलिस को तहरीर दी गई थी। अभी पुलिस द्वारा मामले की छानबीन चल ही रही थी कि इसी बीच सीएचसी-पीएचसी के चिकित्सकों ने डीएम को ज्ञापन सौंपकर मुकदमा दर्ज करने की मांग करने के साथ आपातकालीन सेवाएं बाधित करने की चेतावनी देने लगे। आखिरकार प्रभारी चिकित्साधिकारी की तहरीर पर पुलिस ने वर्त्तमान ब्लाक प्रमुख सहित चार अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया था। तहरीर पर चल रही जांच पूर्ण होने के बाद पुलिस ने देर शाम पूर्व प्रभारी चिकित्साधिकारी व एएनएम सहित तीन के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया। वहीं सीएमओ द्वारा बैठाई गई जांच भी पूरी कर ली गई है। इस संबंध में थानाध्यक्ष जयशंकर ¨सह ने बताया कि पूर्व प्रभारी चिकित्साधिकारी व एएनम सहित तीन के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

Play Store से हमारा App डाउनलोड करने के लिए नीचे क्लिक करें- Qries