गाजीपुर-अंबिका दुबे और दुर्गेश श्रीवास्तव में जारी है शह और मात का खेल

0
1037

गाजीपुर-जनपद के दोनों सबसे बडे कर्मचारी संगठन के जिलाध्यक्षों मे एक दुशरे को शह और मात देने का कार्य काफी दिनों से लगातार जारी है ।कुछ दिन पूर्व हो रहे वन विभाग के कर्मचारियों के चुनाव में पहुंचकर राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद परिषद के जिलाध्यक्ष अंबिका दुबे अपनी देखरेख में चुनाव कराते हैं और पद एवं गोपनीयता की शपथ ग्रहण कर आते हैं ,तो दूसरे दिन दूसरे ग्रुप के राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के जिलाध्यक्ष दुर्गेश श्रीवास्तव वन विभाग के कर्मचारियों के मध्य पहुंचकर उन्हें अपने हैं ग्रुप से संबद्ध होने की प्रेस विज्ञप्ति जारी करते है।इसी तरह से दूसरे संगठन के जिलाध्यक्ष दुर्गेश श्रीवास्तव जिला कोषागार संघ के चुनाव में जाकर संगठन का चुनाव कराने के साथ-साथ निर्वाचित पदाधिकारियों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाते हैं तो इसके दो दिन बाद दूसरे संगठन के जिलाध्यक्ष अंबिका दुबे जिला कोषागार संघ के पदाधिकारियों के साथ मिलकर उनको बधाई देने के साथ साथ इसकी फोटो सोशल मीडिया पर वायरल करते हैं। घटना की नवीन कडी में अमित श्रीवास्तव जो राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद अंबिका दुबे गुटके वरिष्ठ जिला उपाध्यक्ष हैं दिनांक 17-10-2019 को अपने पद से व्यक्तिगत/घरेलू व्यस्तता का हवाला देकर आज अपने पद से इस्तीफा दे देते है। गाजीपुर टुड़े ने जब अमित श्रीवास्तव से फोन कर जानना चाहा कि क्या आप दुशरे गुट (दुर्गेश श्रीवास्तव)में सामिल होगें क्या ?तो उन्होंने कहा कि मै किसी गुट मे नहीं जारहा हुँ। कर्मचारी संगठनों के राजनीति पर पैनी नजर रखने वालों का मानना है कि अमित श्रीवास्तव का इस्तीफा भी इसी शह और मात के खेल का एक भाग है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here