गाजीपुर-अब इस पूजनोत्सव पर कोरोना संक्रमण की मार

0
212

गाजीपुर 8 नवंबर श्री चित्रगुप्त वंशीय सभा ददरी घाट ,गाजीपुर के कार्यकारिणी के सदस्यों एवं विशिष्ट आमंत्रित सदस्यों की बैठक ददरी घाट स्थित श्री चित्रगुप्त मंदिर के सभागार में दिन में 11:00 बजे संपन्न हुई। बैठक की अध्यक्षता संस्था के अध्यक्ष श्री आनंद शंकर श्रीवास्तव एडवोकेट ने किया। बैठक में आगामी 16 नवंबर को होने वाली श्री चित्रगुप्त पूजन समारोह के सार्वजनिक कार्यक्रम को कोरोना महामारी के कारण इस वर्ष सुछ्म रूप से किए जाने का निर्णय सर्वसम्मति से लिया गया। तथा मंदिर परिसर में विधान परिषद सदस्य श्री विशाल सिंह चंचल के सौजन्य से पूर्वांचल विकास निधि द्वारा कराए गए इंटरलॉकिंग ईटों से फर्श की सुंदरीकरण की प्रशंसा की गई , तथा उनका आभार व्यक्त किया गया ।
बैठक के पश्चात संस्था के मंत्री श्री अजय कुमार श्रीवास्तव ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया कि आगामी 16 नवंबर को दिन में 1:00 बजे भगवान श्री चित्रगुप्त की पूजा श्रृंगार एवं आरती कार्यकारिणी के सदस्यों एवं वरिष्ठ जनों की उपस्थिति में सादगी पूर्ण विधि से की जाएगी । तत्पश्चात अपराहन 2:00 बजे से भक्तों के दर्शनार्थ मंदिर खुला रहेगा । जो रात्रि 10:00 बजे तक खुला रहेगा । इस बीच भक्तगण सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए दो दो की संख्या में भगवान का दर्शन कर सकेंगे 60 वर्ष से ऊपर के वृद्धजन एवं छोटे बच्चों को साथ न लाने का भी अनुरोध किया जाएगा । उन्होंने बताया कि बैठक में यह भी निर्णय लिया गया है कि पिछले वर्षों की बात आयोजित होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन इस वर्ष नहीं किया जाएगा । तथा मंदिर प्रशासन की ओर से वितरित किए जाने वाले प्रसाद भी वितरित न करने का निर्णय लिया गया है , मंदिर परिसर में प्रवेश के लिए मास्क व 2 गज की दूरी का पूरा पालन करना होगा । मंदिर में सैनिटाइजर की भी व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी । इस अवसर पर श्री नीरज श्रीवास्तव, शिव शंकर सिन्हा ,रवि श्रीवास्तव, विभोर श्रीवास्तव ,भूपेंद्र श्रीवास्तव, यशवर्धन श्रीवास्तव, ओम प्रकाश श्रीवास्तव ,सुनील दत्त ,मुनेंद्र, प्रमोद सिंहा ,अरविंद कुमार, संतोष कुमार श्रीवास्तव, प्यारे मोहन ,सुशील श्रीवास्तव, सुनील एडवोकेट ,राजू बागी, आनंद वर्मा ,राजीव श्रीवास्तव आदि लोग उपस्थित रहे। भवदीय-अजय कुमार श्रीवास्तव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here