गाजीपुर-इसे कहते है प्रशासन का खौफ़

0
731

गाजीपुर। योगी सरकार द्वारा माफियाओं के खिलाफ लगातार सख्ती का क्रम जारी है। इसी सख्ती का परिणाम है कि पिछले कुछ माह से प्रशासन द्वारा बाहुबली विधायक मुख्तार के नाते-रिश्तेदारों के साथ ही उनके करीबियों पर सख्ती का डंडा चलाया जा रहा है। इससे नाते-रिश्तेदारों के साथ ही करीबियों में खौफ के बीच हड़कंप मचा हुआ है। जिला प्रशासन द्वारा मुख्तार से जुड़े डा. आजम सिद्दीकी द्वारा सदर कोतवाली क्षेत्र के रौजा तिराहा के पास होटल का निर्माण कराया जा रहा है। मास्टर प्लान विभाग द्वारा निर्माणाधीन होटल के कुछ हिस्से को अवैध बताते हुए उस हिस्से का सीमांकन कर उसे तोड़ने की नोटिस दी गई थी। इस नोटिस के बाद खुद डा. आजम सिद्दीकी द्वारा निर्माणधीन होटल के आगे के कुछ हिस्से को मजदूर लगावकर गिरवाया जा रहा है। अवैध निर्माण को गिराने की तस्वीर आप देख सकते है। गौरतलब है कि कुछ दिन पहले प्रशासन द्वारा डा. आजम के शम्मे हुसैनी अस्पताल को ध्वस्त कराने की कार्रवाई की गई थी। प्रशासन के अनुसार शम्मे हुसैनी अस्पताल निर्माण में एनजीटी और मास्टर प्लान सहित अन्य मानकों के विरुद्ध कराया गया था। इसके साथ ही डा. आजम सिद्दकी सहित उनके परिजनों का 17 लाइसेंसी असलहे को निलबिंत कर जब्तीकरण की कार्रवाई की जा चुकी है। अभी हाल ही में मुख्तार अंसारी के बेटे और पत्नी के नाम से शहर के महुआबाग में स्थित गजल होटल के ऊपरी मंजिल को प्रशासन ने ध्वस्त कराया था। प्रशासन द्वारा जिस तरह से मुख्तार अंसारी जुड़े लोगों के गलत-सही की कुंडली खंगालने का क्रम चल रहा है। उससे उनमें खौफ के चलते हड़कंप मचा हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here