गाजीपुर-एमएलसी चंचल वनाम राकेश न्यायिक

0
1446

गाजीपुर-जिला पंचायत सदस्य मारकंडेय सिंह ने खुद पर हुए जानलेवा हमले में लिखित तहरीर देकर वाराणसी के शातिर यूट्यूबर राकेश न्यायिक सहित दो के खिलाफ सादात थाने मे एफआईआर दर्ज कराया है। गोली से घायल मार्कंडेय सिंह का वाराणसी के एक निजी चिकित्सालय में इलाज चल रहा है फिलहाल वह खतरे से बाहर हैं। वहीं सावधानी के तौर पर जिलापंचायत सदस्य मार्कंडेय सिंह के घर पर एक हेड कांस्टेबल सहित 3 पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगा दी गई है। दिलीपराय पट्टी गांव निवासी जिलापंचायत सदस्य भीमापार बाजार से पैदल ही रात्रि 8 बजे अपने घर जा रहे मारकंडेय सिंह को सोमवार की रात में बाइक सवार अपराधियों ने गोली मार दी थी। गोली उनके हाथ में लगी थी।सैदपुर सीएचसी मे प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें वाराणसी के लिए रेफर कर दिया गया था। इस मामले को लेकर लोगों में काफी आक्रोश है और परिजन भी इस घटना से काफी सहमे हुए हैं। थानाध्यक्ष सादात सूर्य प्रकाश मिश्र ने बताया कि मारकंडेय सिंह की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर कार्यवाही की जा रही है, दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही होगी।पिछले वर्ष राकेश न्यायिक ने एमएलसी विशाल सिंह चंचल को अपशब्द कहते हुए एक पोस्ट सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया था।विशाल सिंह चंचल के खिलाफ सोशल मीडिया पर पोस्ट वायरल होने पर जिला पंचायत सदस्य मारकंडेय सिंह ने राकेश न्यायिक के खिलाफ थाने में मुकदमा दर्ज कराया था। इस वारदात को उसी कड़ी से जोड़कर देख रहे हैं, हालांकि यह इसकी जांच का विषय है।

एमएलसी विशाल सिंह चंचल वनाम राकेश न्यायिक- वाराणसी के शिवपुर मे स्थित वीडीए कॉलोनी निवासी राकेश नायक के अनुसार 3 मार्च 2011 को उन पर जानलेवा हमला किया गया था। उस दौरान पूर्व एमएलसी राजदेव सिंह,विशाल सिंह चंचल और भाई देवेंद्र सिंह,इनामी बदमाश विश्वास नेपाली और अन्य के साथ घटना स्थल पर मौजूद थे। गोली चलने की आवाज सुनकर राकेश न्यायिक घर में भाग कर छुप गए थे।राकेश न्यायिक ने तत्कालीन एसएसपी को प्रार्थना पत्र देकर कार्यवाही की माँग किया था लेकिन कार्यवाही नहीं होने पर राकेश न्यायिक ने इलाहाबाद हाईकोर्ट की शरण ली।हाईकोर्ट के आदेश पर शिवपुर थाने में राजदेव सिंह, उनके भाई देवेंद्र सिंह तथा वर्तमान एमएलसी विशाल सिंह चंचल, इनामी बदमाश विश्वास नेपाली, ऋषि पंडित, बच्चा यादव के खिलाफ 3 नवंबर 2012 को शिवपुर थाने में मुकदमा दर्ज किया गया। इस मामले में पूर्व सांसद जवाहर लाल जायसवाल,विजय जयसवाल, तथा मृत मुन्ना बजरंगी को मुख्य षडयंत्रकारी के तौर पर आरोपी बनाया गया।राकेश न्यायिक माफिया डॉन तथा वर्तमान एमएलसी बृजेश सिंह की पुत्री प्रियंका की शादी में भी व्यवधान डाल चुका है।बडे- बड़े लोगों से पंगा लेना राकेश न्यायिक की आदत है। वर्तमान जिला पंचायत सदस्य पर हुए हमले को राजनैतिक व अपराध जगत के पंडित एमएलसी विशाल सिंह चंचल और राकेश न्यायिक के मध्य चल रहे द्वंद का एक हिस्सा मान रहे हैं।

Leave a Reply