गाजीपुर- औने पौने दाम पर अपनी फसल बेचने को मजबूर होगा किसान

0
628

गाजीपुर-आज दिनांक 25सितम्बर को समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय अखिलेश यादव जी के आह्वान पर किसान एवं श्रमिक विरोधी विधेयक के विरोध में जिलाध्यक्ष रामधारी यादव के नेतृत्व में महामहिम राज्यपाल महोदय के नाम से संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी गाजीपुर को सौंपा और तत्काल किसानों एवं श्रमिकों के हित में किसान एवं श्रमिक विरोधी विधेयक को वापस लेने की मांग किया ।
समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष रामधारी यादव ने ज्ञापन देने से पूर्व पार्टी कार्यालय समता भवन पर कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि भारत सरकार द्वारा लाया गया कृषि एवं श्रमिक विधेयक किसानों एवं श्रमिकों के हितों की अनदेखी करने वाला है । इस कृषि विधेयक से किसान अपनी जमीन का मालिक न होकर मजदूर हो जाएगा ।कृषि उत्पादन मंडी की समाप्ति और विधेयक में न्यूनतम समर्थन मूल्य मिलना सुनिश्चित ना होने से किसान अब ओने पौने दामों पर अपनी फसल बेचने को मजबूर होगा । आज गेहूं ,धान की फसल को आवश्यक वस्तु अधिनियम की सूची से हटाए जाने से किसान को बड़े आढ़तियों और व्यापारिक घरानों की शर्तों पर अपनी फसल बेचना मजबूरी हो जाएगी ।समाजवादी पार्टी किसानों की आवाज को दबने नहीं देगी।
संसद में श्रमिक कानून से श्रमिकों के हित बुरी तरह प्रभावित होंगे, अभी तक 100 कर्मचारियों वाले उद्योगों को बिना सरकारी अनुमति के छटनी का अधिकार नहीं था।नया कानून 300 कर्मचारियों वाले उद्योगों को भी जब चाहे कर्मचारियों की छंटनी करने का अधिकार दे रहा है ,इससे श्रमिकों में असुरक्षा की भावना बढ़ेगी और वह अपनी जायज मांगों को भी नहीं उठा सकेंगे ।उद्योगपति के कर्मचारी बंधुआ मजदूर बनकर रह जाएंगे ,भाजपा सरकार के प्रति जनविरोधी कारणों को लेकर जनता में भारी आक्रोश व्याप्त है ,किसान जगह-जगह प्रदर्शन कर रहे हैं, भाजपा सरकार श्रमिकों को रोजगार तो नहीं दे पा रही है उल्टे उनको पूंजी घरानों की दया पर आश्रित बनाने की साजिश कर रही है समाजवादी पार्टी भारत सरकार की साजिशों की पुरजोर विरोध करती है और किसानों और श्रमिकों की इस लड़ाई को समाजवादी पार्टी अंतिम समय तक सड़क से लेकर संसद तक लड़ने का काम करेगी। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार का जनता के बुनियादी सवालों से कुछ भी लेना देना नहीं है,इस सरकार का केवल एक मकसद अपने उधोगपति मित्रों की मदद और सरकारी सम्पत्ति को पूंजीपति घरानों को सौंपना ही रह गया है।

इस कार्यक्रम में समाजवादी पार्टी के जिला अध्यक्ष रामधारी यादव के साथ पार्टी के पूर्व जिलाध्यक्ष राजेश कुशवाहा,जिला उपाध्यक्ष निजामुद्दीन खां,महामंत्री अशोक बिंद,जिला उपाध्यक्ष कन्हैया लाल विश्वकर्मा ,मीडिया प्रभारी अरुण कुमार श्रीवास्तव , पूर्व महासचिव सदानंद यादव,जिला पंचायत सदस्य सत्येंद्र यादव सत्या, अरविंद सिंह यादव, पूर्व सभासद दिनेश यादव, आमिर अली, सदर विधानसभा के अध्यक्ष तहसीन अहमद ,सदर जंगीपुर विधानसभा के अध्यक्ष राजेंद्र यादव, पूर्व जिला पंचायत सदस्य अनिल यादव, जहुराबाद विधान सभा के अध्यक्ष जय हिंद यादव ,केशव यादव ,आत्मा यादव, अतीक अहमद राईनी, यूथ ब्रिगेड के जिलाध्यक्षविनोद पाल, समाजवादी छात्र सभा के जिलाध्यक्ष अमित सिंह लालू, सिकंदर कनौजिया, रविंदर यादव ,नगर अध्यक्ष दिनेश यादव , डॉ समीर सिंह,गोपाल यादव, राम नगीना यादव, सुखपाल यादव, हरबंस यादव, द्वारिका यादव ,अभिनव सिंह,,राज किशोर सिंह ,रामाशीष यादव ,जगत मोहन बिंद, चौथी यादव ,विनोद यादव आजाद राय, विभा पाल, रीना यादव,ओम प्रकाश यादव,राकेश यादव,आदि उपस्थित थे ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here