गाजीपुर-कांग्रेसियों ने मनाया संविधान चर्चा दिवस, लेकिन क्यों ?

0
245

गाज़ीपुर। “3 जनवरी, रविवार” जिला कांग्रेस कमेटी के सिटी रेलवे स्टेशन स्थित कार्यालय पर आज “संविधान दिवस चर्चा” के रूप में मनाया गया, इस अवसर पर अल्प संख्यक मोर्चे के जिला प्रभारी एवम प्रदेश सचिव ख्वाजा गुड्डू भाई एवम जिला अध्यक्ष श्री सुनील राम ने एक पत्रकार वार्ता भी की।

जिसमें ख्वाजा गुड्डू भाई ने बताया कि भारतीय संविधान में 42 वाँ संशोधन पूर्व पीएम इंदिरा गांधी द्वारा पेश किया गया था, जिसकी प्रस्तावना में ‘समाजवादी’ और ‘धर्मनिरपेक्ष’ शब्द जोड़े गए थे। जो कि पूरी दुनिया मे भारत की कौमी एकता और धर्मनिरपेक्षता की एक ऐतिहासिक मिसाल के रूप में आज भी याद की जाती है।

जिलाध्यक्ष सुनील राम ने बताया कि भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (INC) ने आज ही 3 जनवरी 1976 को, संविधान के 42 वें संशोधन में ऐतिहासिक निर्णय लेते हुए समाजवादी और धर्मनिरपेक्ष शब्द जोड़ा था जिससे भारत की पूरे विश्व में एक धर्मनिरपेक्ष राष्ट्र की बेहतरीन छवि बनी थी, उसी के 44 वर्षों के शानदार इतिहास को चिह्नित करने के लिए आज का दिन 3 जनवरी ‘संविधान चर्चा दिवस’ के रूप में पूरे देश के साथ काँग्रेस जिला कार्यालय में भी मनाया गया।

ख्वाजा गुड्डू भाई ने प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए बताया कि भारत के संविधान में 42 वाँ संशोधन भारत के पूर्व प्रधान मंत्री इंदिरा गांधी द्वारा पेश किया गया था, जिसमें प्रस्तावना में ‘समाजवादी’ और ‘धर्मनिरपेक्ष’ शब्द जोड़े गए थे। इसने भारत के विवरण को संप्रभु लोकतांत्रिक गणराज्य से संप्रभु, समाजवादी, धर्मनिरपेक्ष, लोकतांत्रिक गणराज्य’ में बदल दिया था और ये सब कांग्रेस पार्टी की धर्मनिरपेक्ष सोच का ही नतीजा है।
जिला कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष संटू जैदी ने कहा कि अल्पसंख्यक का हित सिर्फ और सिर्फ कांग्रेसमें ही सुरक्षित है ,अन्य पार्टियों में तो अल्पसंख्यक समुदाय छला जाता है।
प्रेस कॉन्फ्रेंस में अल्पसंख्यक मोर्चे के प्रदेश सचिव एवम अल्पसंख्यक जिला प्रभारी ख्वाजा गुड्डू भाई, अल्पसंख्यक मोर्चे के जिलाध्यक्ष मो० सैफ सिद्दीकी, अल्पसंख्यक मोर्चे के शहर अध्यक्ष आदिल अख्तर, जिलाध्यक्ष श्री सुनील राम, जिला उपाध्यक्ष शंटू ज़ैदी, जिला सचिव महबूब निशा आदि कांग्रेस पदाधिकारी व नेता उपस्थित रहे।

भवदीय
अजय श्रीवास्तव
प्रवक्ता / महामंत्री
जिला कांग्रेस कमेटी, गाज़ीपुर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here