गाजीपुर-गोली से घायल प्रधान प्रत्याशी के पुत्र की मृत्यु

गाजीपुर-त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के आखिरी चरण ने अंत में आकर खूनी रूप ले ही लिया। बुधवार की देररात सादात थानाक्षेत्र के गौरा में बदमाशों ने चुनावी रंजिश में प्रधान पद के प्रत्याशी के पुत्र की गोली मारकर हत्या कर दी। जिसके बाद दूसरे पक्ष के लोगों ने पूर्व प्रधान को हत्यारोपी बताते हुए उसके घर के बाहर आगजनी कर दी। मौके पर पहुंचे एसपी ने उन्हें समझाया बुझाया। गौरा में अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित प्रधान पद की सीट पर महावीर प्रसाद समेत कुल 3 लोग चुनाव लड़ रहे हैं। उनमें से एक को पूर्व प्रधान मनोज सिंह लड़ा रहे हैं तो महावीर भी एक पूर्व प्रधान के समर्थन से मैदान में खड़े हैं। बुधवार की रात पिता का प्रचार करने के लिए महावीर का पुत्र नंदलाल राम उर्फ डबलू आयु 30 वर्ष गांव में गया था। आगे जाने पर नंदलाल को अकेला देख करीब 10 की संख्या मे बदमाशों ने उसे घेर लिया और जमकर पीटने के साथ ही गालियां देते हुए उसे गोली मार दी। गोली की आवाज सुनकर वहां पहुंचे लोगों को देख बदमाश मौके से फरार हो गए। जिसके बाद युवक को आनन फानन में अस्पताल ले जाया गया, जहां से उसे वाराणसी रेफर कर दिया गया। लेकिन रास्ते में ही नंदलाल ने दम तोड़ दिया। युवक की मौत की जानकारी मिलते ही परिजन व समर्थक बेकाबू हो गए और वो पूर्व प्रधान मनोज के घर पहुंचकर उसे गालियां देते हुए घर के बाहर खड़े ट्रैक्टर, स्कॉर्पियो आदि में आग लगा दिया। इधर सूचना मिलने पर रात में ही पुलिस अधीक्षक ओपी सिंह व एसपी सिटी गोपीनाथ सोनी कई थानों की फोर्स के साथ गांव में पहुंच गए और भीड़ को समझा बुझाकर शांत किया। इधर मनोज अपने परिजनों संग पीछे से फरार हो गया। घटना के बाबत पीड़ित के भाई सतवीर ने पूर्व प्रधान के खिलाफ हत्या की नामजद तहरीर दी। इस बाबत थानाध्यक्ष दिव्यप्रकाश सिंह ने बताया कि तहरीर मिली है, कईयों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। जल्द ही हत्यारोपी गिरफ्त में होगा।

Also Read:  गाजीपुर-गंवई राजनीति या खुन्नस, बदमाशों ने गोली मारा