गाजीपुर-चार गये जेल,चार पर इनाम

0
804

गाजीपुर। सैदपुर थानाक्षेत्र के देवचंदपुर स्थित पेट्रोल पंप पर बीते 15 अक्टूबर को अंधाधुंध फायरिंग झोंककर कोहराम मचाने व अधेड़ त्रिभुवन सिंह की हत्या करने वाले मुख्य आरोपी करमवीर सिंह उर्फ सन्नी आखिरकार पुलिस के हत्थे चढ़ गया। हालांकि पुलिस इस बात से इंकार कर रही है। बीते 5 दिनों से पुलिस को इनपुट मिल रहे थे कि मुख्य आरोपी करमवीर सिंह व आनंद सिंह उर्फ ढोलक जिला न्यायालय में आत्मसमर्पण कर सकते हैं। बताया जा रहा है कि दोनों हत्यारोपियों को डर सता रहा था कि कहीं पुलिस उनका एनकाउंटर न कर दे। जिसके चलते वो किसी भी तरह से कोर्ट में हाजिर होने की जुगत में थे। जिसके लिए 5 दिनों से न्यायालय के पास पुलिस सादे व बावर्दी तैनात थी। एसपी सिटी गोपीनाथ सोनी लगातार पूरे मामले की मॉनीटरिंग कर रहे थे। इस बीच बुधवार की दोपहर पुलिस को पता चला कि आरोपी करमवीर सिंह जिला न्यायालय में सरेंडर करना चाह रहा था लेकिन पहले से दाखिल न किए जाने के चलते वो हाजिर नहीं हो सका। जिसके बाद उसने बिकरू कांड के मुख्य आरोपी गैंगस्टर विकास दुबे का तरीका अपनाया और एक कागज पर उसने खुद का नाम ‘मैं करमवीर सिंह उर्फ सन्नी निवासी देवचंदपुर’ लिखकर मास्क लगाकर लोवर व टीशर्ट में घूम रहा है। जिसके बाद बुधवार की दोपहर करीब 12ः50 पर पुलिस ने मुख्य आरोपी करमवीर सिंह को सरजू पांडेय पार्क के पास से उठा लिया और सैदपुर क्षेत्राधिकारी राजीव द्विवेदी उसे लेकर अन्यत्र रवाना हो गए। हालांकि पूरे मामले को पुलिस अभी नकार रही है और पुलिस का कहना है कि हम मुख्य आरोपी करमवीर सिंह की तलाश कर रहे हैं, जल्द ही वो पकड़ा जाएगा। बताया जा रहा है कि जिले के ही किसी अन्य थाने में आरोपी करमवीर सिंह से पुलिस लगातार पूछताछ करके उसके अन्य फरार साथियों के बारे में जानने की कोशिश में जुटी हुई है। इधर सूचना मिल रही है कि दूसरा आरोपी आनंद सिंह उर्फ ढोलक भी गोरखपुर पुलिस के गिरफ्त मे आने के बाद उसे गाजीपुर की पुलिस अपने कब्जे मे ले चूकी है।सीसीटीवी फुटेज से चिन्हित सुन्दर सिंह उर्फ धनजी निवासी ग्राम गोशन्देपुर थाना करण्डा, चन्दन सिंह उर्फ राणा निवासी मंगारी (भीमापार),कर्मबीर सिंह का रिस्तेदार गौरव सिंह उर्फ सन्नी और बडे भाई अरविंद सिंह पर पुलिस 25-25 हजार का इनाम घोषित कर चूकी है। गोशन्देपुर मे धनजी के अबैध निर्माण को पुलिस ने बुल्डोजर से ध्वस्त कर दिया है।अभी तक घटना से जूडे चार आरोपी लालबहादुर सिंह उर्फ दीपक सिंह निवासी नारीपचदेवरा थाना करण्डा, अमन उर्फ सूरज पान्डेय निवासी देवापार झलरिया (सादात),अरूण सिह व रंगबहादुर सिंह ( गोशन्देपुर) को पुलिस गिरफ्तार कर जेल भेज चूकी है।

Leave a Reply