गाजीपुर-चिकित्सालय की व्यथा कथा

0
299

गाजीपुर। जनपद में बदहाल हो चुकी चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाओं की बेहतर बहाली तक जनता के सहयोग से आंदोलन का मन बना चुके सामाजिक कार्यकर्ता व पूर्व छात्र संघ उपाध्यक्ष दीपक उपाध्याय ने सोमवार को जिला महिला अस्पताल में व्याप्त अनियमितताओं एवं चिकित्सा कर्मियों की कर्तव्यहिंनता के चलते प्रसव कराने आई महिला मरीजों एवं उनके परिजनों को हो रही परेशानियों के मद्देनजर 9 सूत्रीय मांग पत्र के साथ सोमवार को जिलाधिकारी से मिलकर पूरी समस्या से विस्तार पूर्वक उन्हें अवगत कराया। इस सम्बन्ध में मांग पत्र पर आवश्यक कदम उठायें जाने का जिलाधिकारी ने आश्वासन दिया। श्री उपाध्याय द्वारा प्रस्तुत मांग पत्र में महिला अस्पताल में सीजर डिलीवरी व नॉर्मल डिलीवरी के नाम पर होने वाली धन वसूली अभिलंब बंद कराने, भर्ती मरीजों के इलाज के दौरान डॉक्टरों द्वारा जेनेरिक दवाइयों के स्थान पर कमीशन के चक्कर में ब्रांडेड व हॉस्पिटल के बाहर की दवाओं की पर्ची लिखने वाले चिकित्सकों के इस कृत्य पर अविलंब अंकुश लगाने, अस्पताल के औषधि भंडार में बेहतर व प्रभावकारी दवा इंजेक्शन का अभाव है, इन दवाओं की शासन व सरकार के स्तर से उपलब्धता सुनिश्चित कराने, मुख्यालय पर स्थित एकमात्र जिला महिला अस्पताल में हर हाल में 24 घंटे बेहोशी के डाक्टर एवं गायनी सर्जन की उपलब्धता अनिवार्य रूप से उपलब्ध कराने तथा अस्पताल परिसर में गर्भवती महिला मरीजों के उपयोग हेतु शौचालय एवं मूत्रालय में साफ-सफाई की समुचित व्यवस्था कराने, वार्डों में मौजूद दरवाजा विहीन बाथरूम एवं टॉयलेट में अविलंब दरवाजा लगाये जाने, शोपिश बनकर खड़े पेयजल संयंत्रों को तत्काल ठीक कराने व जर्जर अवस्था में पड़े बेड व टेबल को ठीक कराने जैसी मांग प्रमुख रूप से शामिल हैं। बताते चलें कि एक तरफ जहां श्री उपाध्याय जनपद में अच्छी से अच्छी स्वास्थ्य सुविधा एवं चिकित्सा सेवा के लिए निरंतर प्रयासरत् है वहीं दूसरी तरफ आये दिन रक्तदान से जरूरतमंद रोगियों के लिए रक्तदान हेतु जिले के युवाओं को प्रेरित करते रहने का भी एक पुनीत अभियान इनके नेतृत्व में विगत् कई महीनों से चलाया जा रहा है, इनका यह प्रयास सामाजिक एवं संवेदनशील सोच रखने वाले जनपदवासियों के लिए प्रेरणादायी होने के साथ ही सर्वत्र चर्चा का विषय बना हुआ है। इस मौके पर पूर्व पुस्तकालय मंत्री मो० परवेज, छात्र नेता आकाश तिवारी, प्रवीण पाण्डेय, जितेंद्र राय,दीपक कुमार, धर्मेंद्र यादव,शैलेश यादव, सुनील कुमार, अजीत यादव,चन्द्रेश दूबे, अजय यादव इत्यादि छात्र मौजूद थे।

Leave a Reply