गाजीपुर-प्रभु श्रीराम खुश

0
237

गाजीपुर- मुख्यमंत्री के संकेत मिलते ही जहां रामलीला कमेटियों में उत्साह का माहौल बन गया है वहीं दुर्गापूजन समितियों में उदासी का माहौल है। रामलीला मंचन की खबर मिलते ही सभी रामलीला समिति के लोग कलाकारों के संवाद और अभिनय प्रशिक्षण पर काम शुरू कर दिया। रामलीला मंचों सहित लीला मैदान में जमकर फावड़ा झाड़ू चलाया जा रहा है। रामलीला मंच से जुड़े विशेषज्ञों का कहना है कि कोविड संक्रमणकाल में पोशाक मुकुट अस्त्र शस्त्र और बिग आदि को बार बार सेनेटाइज करना और बच्चों को सुरक्षित रखकर अभिनय करवाना काफी जोखिम भरा और चुनौतीपूर्ण कार्य है। कई रामलीला व्यवस्थापकों की समस्या है कि कैसे दर्शकों की संख्या को सौ तक सीमित किया जाय। दुर्गापूजन पंडाल से जुड़े लोग मायूस और उदास है। उनका कहना है कि सीमित लोगों और आवश्यक दिशानिर्देश के साथ हमलोगों को भी दुर्गा मूर्ति रखने की अनुमति मिलनी चाहिए थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here