गाजीपुर-लापरवाही अक्षम्य होगी-जिलाधिकारी

0
241

गाजीपुर। कोविड-19 वैश्विक महामारी के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए जनपद में डोर-टू-डोर जांच अभियान चलाकर सर्वे कराने के संबंध में बुधवार जिलाधिकारी ओमप्रकाश आर्य की अध्यक्षता में विकास भवन सभागार में बैठक हुई। इस मौके पर जिलाधिकारी ने गठित सर्विलांस टीम एवं निगरानी समितियों को निर्देश देते हुए कहा कि जनपद में अगले पांच दिनों में प्रत्येक ग्रामीण एवं नगरीय क्षेत्रों में जाकर प्रत्येक घर के लोगों का नाम, पता, मोबाइल नंबर और वह कौन-कौन सी बिमारियों से ग्रसित है एवं गर्भवती महिलाओं की सूची तैयार करें। तत्पश्चात जांच के दौरान पाए गए संदिग्ध व्यक्तियों को अगले 12 दिनों में गंभीर रोगों से ग्रसित व्यक्तियों की जांच कराना सुनिश्चित करे। जांच में संक्रमित पाये गये व्यक्तियों को 24 घंटा के भीतर होम आईसोलेशन, पेड अस्पताल या एल-1 अस्पताल में भर्ती कराया जाए। साथ ही संक्रमित व्यक्तियों के संपर्क में आए व्यक्तियों का भी चिन्हांकन करते हुए जांच कराने का निर्देश दिया। कहा कि निगरानी समितियों द्वारा यह भी सुनिश्चत किया जाए कि ऐसे व्यक्ति जो चिहिन्त कर जांच करा लिये गये है और उन्हें होम कोरेंटाइन किया गया है, जो शासन की गाइड-लाइन का शत-प्रतिशत पालन कर रहे हैं कि नहीं साथ ही बीमार व्यक्ति के साथ लगे अटेंडेण्ड संक्रमित व्यक्ति से सोशल डिस्टेंसिंग व पूरी किट के साथ उपस्थित रहते है कि नहीं, इसकी पूरी निगरानी रखते हुए शासन की गाइड-लाइन का पालन कराएंगे, जिससे आगे कोरोना के संक्रमण को  फैलने से रोका जा सके। कोई भी व्यक्ति जो स्वस्थ्य हो या बीमार, सबकी जांच होनी चाहिए। उन्होने बताया कि मुख्यमंत्री का सख्त निर्देश है कि जो भी अधिकारी/कर्मचारी डोर-टू-डोर सर्वे अभियान में लापरवाही बरतता है तो उसके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि सर्विलांस टीम/निगरानी समिति द्वारा किसी भी परिस्थिति में जांच/सर्वे अभियान में चूक न होने पाये, जिससे कोरोना जैसी महामारी से लड़ा जा सके एवं इसके बढ़ते चेन को तोड़ा जा सके। कहा कि अधिकारी पूरी ईमानदारी के साथ लगकर इस अभियान को सफल बनाए। इसमें किसी प्रकार की शिथिलता बरतने वाले के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होने निर्देश दिया कि जो भी अधिकारी व कर्मचारी इस अभियान में लगे है, वह शनिवार एवं रविवार को लाकडाउन के दौरान भी डोर-टू-डोर जांच अभियान में अपने-अपने क्षेत्रो में उपस्थित रहेंगे। कोई भी अधिकारी/कर्मचारी इन दिनो में मुख्यालय नहीं छोडे़गा। ऐसा करने पर उसके विरूद्ध निलंबन की कार्रवाई की जाएगी। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी श्रीप्रकाश गुप्ता, परियोजना निदेशक विजय प्रकाश वर्मा, जिला विकास अधिकारी भूषण कुमार, डीसी मनरेगा दिलीप कुमार सोनकर, जिला पंचातय राज अधिकारी अनिल कुमार सिंह, समस्त खंड विकास अधिकारी, समस्त सीडीपीओ और समस्त सहायक खंड विकास अधिकारी एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here