गाजीपुर-शुक्र है, मौत के मुंह से निकल आया

0
525

गाजीपुर-सैदपुर तहसील मुख्यालय के ठीक सामने स्थित मोबाइल रिपेयरिंग की दुकान में शुक्रवार की रात शॉर्ट सर्किट से आग लगने से तीन दुकानों में रखें बिक्री के 25000 रुपयों सहित करीब 18 लाख का सामान जलकर राख हो गया। जिसके बाद वहां पिकेट पर तैनात पुलिसकर्मी व नगर निवासी युवक ने फोनकर बिजली कटवाया और जान पर खेलकर दुकान के अंदर सो रहे हैं दुकानदार को सटर चांड कर बाहर निकाला।घटना के काफी देर बाद पहुंची फायर ब्रिगेड की गाडी व नगर पंचायत के टैंकरों से आग पर काबू पाया गया, लेकिन तब तक तीनों दुकाने जलकर राख हो चुकी थी और दीवारें भी चिटक कर फट गई थी। तहसील मुख्यालय के ठीक सामने वार्ड नंबर 13 निवासी शिवाजी मोदनवाला की पुत्र प्रशांत मोदनवाला की फोटोस्टेट एवं ऑनलाइन फॉर्म भरने की दुकान है।उसी मकान के दुशरे कटरे में मिर्जापुर जनपद के जमालपुर स्थित शेरवा निवासी अमित विश्वकर्मा की मोबाइल रिपेयरिंग की दुकान है और वह गांधी आश्रम में अपने पिता के साथ रहता है।उसी मकान के बगल वाले कटरे में वार्ड नंबर 13 निवासी विनीत मोदनवाला की मोबाइल रिपेयरिंग की दुकान है।नित्य की तरह दुकानें बंद कर सभी घर चले गए लेकिन विनीत अपनी दुकान के अंदर ही सो रहा था। इसी बीच किसी एक दुकान में आधी रात में शॉर्ट सर्किट के चलते आग लग गई, कुछ देर बाद आग अंदर ही अंदर तीनों दुकानों को अपने जद मे ले ली और विकराल रूप धारण कर लिया।जब आग काफी बढ़ गई और लपटें दुकान से बाहर आने लगी तो वहां पिकेट पर तैनात पुलिसकर्मी ने तत्काल कोतवाली को सूचना दी। घटना के बाद आसपास के लोग आग बुझाने में जुट गए। वही मौके पर कोतवाल रविन्द्र भूषण मौर्या भी दलबल के साथ मौके पर पहुंच गए। तभी दुकान के अंदर सो रहे विनीत के चिल्लाने की आवाज आई तो वहां से गुजर रहे वेद इंटरनेशनल स्कूल के एमडी पंकज श्रीवास्तव, अनुराग जायसवाल व सिपाही बच्चे लाल ने अपनी जान पर खेलकर सटर चांड कर बाहर निकालकर उसकी जान बचाई। फायर ब्रिगेड की गाड़ी 2 घंटे बाद मौके पर पहुंची और काफी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया लेकिन तब तक सब कुछ हो चुका था।अमित विश्वकर्मा , प्रशांत मोदनवाला तथा विनीत मोदनवाला का सामुहिक लगभग 18 लाख का रूपये का सामान जल कर खाक हो गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here