गाजीपुर-संदिग्ध मौत को लेकर पुलिस व ग्रामीणों में झडप

0
442

गाजीपुर-मरदह थाना क्षेत्र के सोढ़रा गांव में बुधवार की देर रात को संदिग्ध परिस्थितियों में एक युवक की मौत,इस घटना की जानकारी बृहस्पतिवार की सुबह गांव सहित क्षेत्र में होने पर सैकड़ों ग्रामीण इकट्ठा हो गए।परिजनों का कहना था कि स्थानीय पुलिस रात में दबिश देने आई थी और मृतक के साथ उसकी झड़प हो गई थी और उसी दौरान पुलिस ने उसको धक्का दे दिया इससे उसको चोट लगने से मौत हो गयी।इस मामले को लेकर पुलिस और ग्रामीणों में काफी नोक झोंक देखी गई।पुलिस ने घंटो मशक्कत के बाद शव को कब्जे में ले लिया।थाने पहुँचे शव के बाद भी हो हल्ला शुरू होने पर पुलिस ने शव को तत्काल उठाकर जिला मुख्यालय पोस्मार्टम के लिए भेज दिया।इससे आक्रोशित लोग स्थानीय बस स्टैंड स्थित डां अम्बेडकर प्रतिमा के सामने मऊ – गाजीपुर राष्ट्रीय राजमार्ग को जाम कर दिया जो लगभग एक घंटा चला,पुलिस ने किसी तरह अपने सूझबूझ से लोगों को समझा बुझाकर शांत कराया व चक्का जाम समाप्त कराया।मालूम हो थाना क्षेत्र के सोढ़रा गांव में बीती रात गांव निवासी नारद उर्फ नरेंद्र पासवान आयु 40 वर्ष की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गयी।परिजनों का आरोप है कि चोरी के एक मामले में नारद के भाई चंदन को पुलिस घर पर पकड़ने गयी थी जहाँ पिटाई से नारद की मौत हो गयी।चार बच्चों का पिता नारद दिहाड़ी मजदूरी करता था।पिता व पत्नी की पहले ही मौत हो चुकी है,घटना के बाद मां लीलावती देवी, पुत्र अभिषेक,नितिश,आकाश,अवधेश व पुत्री खुशी का रो-रो कर बुरा हाल था।आक्रोशित परिजनों ने सुबह गाज़ीपुर-मऊ राष्ट्रीय राजमार्ग को मरदह में जाम कर दिया।मौके पर पहुची मरदह पुलिस ने समझा बुझाकर जाम खत्म कराया।चोरी के एक पुराने मामले में परिजनों के अनुसार मरदह पुलिस रात्रि के 12 बजे सोढ़रा गाँव नारद के भाई चंदन को गिरफ्तार करने गयी थी, पुलिस चंदन को पकड़कर थाने लायी जबकि नारद की पुलिस के वापस जाने के घंटों बाद नारद की मौत हो गयी, मौत कि खबर पुलिस को मिलते ही चन्दन को बुधवार सुबह तड़के थाने से छोड़ दिया।नारद के बड़े लड़के अभिषेक के साथ साथ परिजनों का कहना है कि नारद की मौत पुलिस की पिटाई से हुई है।वही इस मामले को लेकर पुलिस का रवैया भी संदिग्ध रहा।पुलिस सुबह सोढ़रा गाँव जाकर शव को कस्टडी में लेकर आनन-फानन में पोस्टमार्टम के लिए भेजवाई।इधर परिजन मामले की जांच और मुआवजे को लेकर राष्ट्रीय राजमार्ग जाम कर दिया।महिलाएं हाथों में ईंट पत्थर लेकर घटना को लेकर बेहद ही गुस्से में थी।मौके पर पुलिस बल के साथ पहुँचें थानाध्यक्ष बलवान सिंह ने परिजनों को समझा बुझा कर जाम समाप्त करवाया।इस संबंध में मृतक के भाई चन्दन पासवान ने अज्ञात कारण से हुई मौत की तहरीर पुलिस को दी।इस संबंध में क्षेत्राधिकारी कासिमाबाद महिपाल पाठक ने बताया परिजनों का आरोप निराधार है,नारद रात में खाना खाने के बाद सोने गया जिसके बाद उसकी मौत हो गयी है।पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने दीजिए सब कुछ साफ हो जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here