गाजीपुर-संविदा सेवा शर्त वापस लेने की मांग

0
119

गाजीपुर। बीटीसी संयुक्त मोर्चा के जिला अध्यक्ष अवधेश यादव के नेतृत्व में पदाधिकारियों ने शुक्रवार को संविदा वापस लेने से संबंधित मुख्यमंत्री को सम्बोधित चार सूत्री मांगों का पत्रकर जिलाधिकारी को सौंपा। इसमें कहा कि यह नियमावली पूर्व में गतिमान भर्तियों पर भी लागू होगी। पिछले चार वर्षों से भी अधिक समय से अनेक भर्तियों के परिणाम लंबित है। उनके परिणाम आने के संबंध में कोई जानकारी नहीं है और यदि परिणाम आ भी जाते है, उसके बाद भी संविद पर नियुक्ति और संविदा आधारित मानदेय प्रतियोगी अभ्यर्थी की उन तमाम आशाओं पर कलंक साबित होगा, जिसे उसने अपने लिए, अपने परिवार और अपने देश के लिए देखा है। कहा है कि नैतिकता, देशभक्ति, कर्थव्यपरायणता जैसे मुद्दों की जांच के लिए यह नियमावली प्रस्तावित है। विभागीय स्तर पर नैतिकता, कर्तव्यपरायणता जांचने की पहले से ही कई नियम विद्यमान है। ऐसे में नए नियम प्रतियोगी अभ्यर्थियों के लिए एक विष का कार्य करेंगे। पांच वर्षीय संविदा अवधि भ्रष्टाचार और धन उगाही को प्रेरित करेगी। वहीं दूसरी तरफ संविदा कर्मी को स्वतंत्र रूप से कार्य करने में भी बांधा उत्पन्न करेगी। भर्ती परीक्षा का उद्देश्य ही योग्य का चयन होता है। ऐसे में एक बार योग्य चयनित व्यक्ति को पांच वर्ष तक बार-बार योग्यता सिद्ध करनी होगी और उसके बाद उसे स्थायी कर दिया जाएगा, लेकिन इसकी क्या गारंटी होगी कि पांच वर्ष अवधि के बाद वह योग्य बना रहेगा। ऐसे तो यह अनंतकाल तक योग्यता परीक्षण की प्रक्रिया बनकर रह जाएगी, जिस पर प्रदेश का सम्पूर्ण ढांचा अस्त-व्यस्त हो जाएगा। अतः इस तरह के किसी भी नियमावली के प्रस्ताव को कैबिनेट के द्वारा मंजूरी ना दी जाए। इससे एक तरफ जहां भ्रष्टाचार और शोषण को बढ़ावा मिलेगा, वहीं दूसरी ओर प्रतियोगी अभ्यर्थियों को अपने संवैधानिक अधिकारों का प्रयोग करने पर विवश होना पड़ेगा। मोर्चा के जिलाध्यक्ष अवधेश यादव ने कहा कि संविदा लागू होने पर युवाओं का शोषण किया जाएगा। सरकारी विभाग में संविदा की व्यवस्था मंजूर नहीं है। चेतावनी दिया कि अगर सरकार जल्द से जल्द इस फैसले को वापस नहीं लेती है तो पूर्वांचल संघ आंदोलन को बाध्य होगी। इस मौके पर त्रिलोकी पासवान, जिला प्रभारी शिवम यादव, प्रभुनाथ कुशवाहा, संतोष यादव, निमेष पांडेय, ओमप्रकाश ठाकुर, अमित गौतम, राकेश सोनकर, ओमप्रकाश यादव, पूर्व छात्र नेता एवं पूर्वांचल अध्यक्ष प्रमोद पाठक, गौरव यादव, अजय राजभर, विनोद यादव आदि उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here