गाजीपुर सदर अंततः मुस्लिम मतदाता जायेगा कहाँ ?

image

गाजीपुर- राजनीति मे कब क्या हो जाये ,ये कोई नही जानता है। गाजीपुर सहित पुरे उत्तर प्रदेश का अल्पसंख्यक मतदाता बहुत ही चौकन्नी नजर से भाजपा उम्मीदवारों को देख रहा है। गाजीपुर के अल्पसंख्यक मतदाताओं पर अंसारी बंन्धुओ के प्रभाव को कोई नकार नही सकता है। गाजीपुर सदर सीट पर मुकाबला बसपा के संतोष यादव , भाजपा की संगीता बलवन्त और सपा के राजेश कुशवाहा के मध्य है। गाजीपुर सदर मे यादव मतदाता 57 हजार, बिन्द मतदाता 53, हजार और चमार मतदाता 42 हजार है। यादव मतदाता सदैव सपा के पछ मे रहा है और रहेगा भी , इसका खामियाजा बसपा उम्मीदवार संतोष यादव को भुगतना पडेगा। सवर्ण मतदाताओं मे बिखराव स्पष्ट रूप से दिखाई दे रहा है।  अरूण सिह समर्थक खुलेआम बसपा का समर्थन कर रहे है, मंत्री विजय मिश्र के समर्थक भी अब जय भीम खुल कर बोल रहे है। डा०मुकेश और विशाल सिह चंचल खुलेआम भाजपा के पक्ष मे प्रचार कर रहे है। सदर विधान सभा मे सर्वाधिक प्रभाव डालने मे सक्षम डा०राजकुमार सिह गौतम अभी तक खामोश बैठे है। रहा सवाल अल्पसंख्यक मतदाताओं का तो वह अन्तिम क्षण मे जब देखेगा कि गाजीपुर सदर सीट पर भाजपा और सपा आमने-सामने है तो अल्पसंख्यक मतदाता सपा उम्मीदवार को जितने के जान लडा देगा। अभी बहुत कुछ भविष्य के गर्भ मे है।

Play Store से हमारा एप्प डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें Find us on Play Store