गाजीपुर-समिति का ताला तोड़ तहसीलदार नें चार्ज सौंपा

0
272

गाजीपुर-गेहूं खरीद में भ्रष्टाचार करने वाले सचिव को निलंबित किए जाने व दागी सचिव द्वारा चार्ज न दिए जाने के बाद सोमवार को जिलाधिकारी के आदेश पर जखनियां तहसीलदार अजीत सिंह की मौजूदगी में बहरियाबाद साधन सहकारी समिति के सील तालों को तोड़कर सरसौली के प्रभारी सचिव बाबूराम यादव को कार्यभार सौंपा गया। कार्य सुचारू हो जाने के बाद किसानों में हर्ष का माहौल है। गौरतलब है कि बीते 26 अक्तूबर को सहायक निबंधक सहकारिता अजय पालीवाल ने बहरियाबाद समिति के कैडर सचिव व भीमापार, पलिवार व बड़ागांव गेहूँ क्रय केन्द्र के प्रभारी रहे नरेंद्र प्रताप सिंह को बड़ागांव गेहूं क्रय केन्द्र में 11.65 लाख़ रूपए के गबन के आरोप में दोषी पाते हुए निलम्बित कर दिया था और बहरियाबाद व पलिवार का प्रभार सरसौली समिति के सचिव बाबूराम यादव को तथा भीमापार का प्रभार हुरमुजपुर समिति के सचिव बृजेन्द्र पाण्डेय को सौंपने का आदेश जारी किया था। इसके बावजूद भ्रष्टाचारी नरेंद्र प्रताप सिंह द्वारा उन्हें चार्ज नहीं दिया जा रहा था। जिसके बाद बीते 4 नवम्बर को सहायक निबंधक सहकारिता ने पंजिका इत्यादि में दागी सचिव किसी प्रकार की गड़बड़ी न कर सके, इसके लिए चारो केन्द्रों को सील करने का आदेश सैदपुर एडीसीओ सतीश प्रसाद दुबे को दिया था। जिसके अगले दिन एडीसीओ ने सभी केन्द्रों को सील करा दिया था। इस मौके पर राजस्व निरीक्षक देवनाथ राम, सादात सहकारी बैंक के प्रबंधक संजय तिवारी, ग्राम प्रधान नेसार अंसारी, बहरियाबाद समिति के सभापति राकेश सिंह, भीमापार के सभापति अरूण कुमार पाण्डेय, हलका लेखपाल भूलोटन यादव, लेखपाल मन्नू यादव, अनुभव सिंह, किसान अंगद सिंह, शोभनाथ यादव आदि उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here