जिला जेल में डीएम, एसपी और सीडीओ का औचक निरीक्षण

जिला जेल में डीएम के बालाजी, एसपी सोमेन बर्मा तथा सीडीओ हरिकेश चौरसिया पूर्वाह्न साढ़े दस बजे अचानक पहुंच गए। आला अफसरों के एक साथ जेल पर पहुंचते ही वहां अफरा-तफरी मच गई। अधिकारियों ने जेल के अंदर सभी बैरकों की सघन तलाशी ली। बैरकों के अंदर मौजूद बंदियों से जेल में मिलने वाली सुविधाओं के बारे में विस्तृत जानकारी ली। बंदियों को दिया जाने वाला भोजन, नाश्ता के संबंध में भी पूछताछ की गई। करीब एक घंटे तक छानबीन करने के बाद करीब साढ़े 11 बजे सभी अधिकारी बाहर निकले। जिलाधिकारी ने बताया कि निरीक्षण में सब कुछ सही पाया गया है। जेल के अंदर कोई आपत्तिजनक वस्तु नहीं मिली है। उन्होंने कहा कि जेल का यह निरीक्षण एक रूटीन के तहत था। कैदियों से उनके स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों और समय से होने वाले चिकित्सीय परीक्षण और दवाओं की व्यवस्था के बारे में भी जानकारी ली गई। जेल के चिकित्सक को कैदियों की देखभाल बेहतर करने तथा जेलर को सभी सुविधाएं समय से उपलब्ध कराने की हिदायत दी गई। पुलिस कप्तान सोमेन वर्मा ने बताया कि जेल में सुरक्षा व्यवस्था को लेकर विशेष सतर्कता बरतने को कहा गया है। जबकि सीडीओ हरिकेष चौरसिया ने बताया कि बंदियों की जरूरतें, उनकी सुविधाओं को नजर अंदाज नहीं किया जाना चाहिए। समय-समय पर जांच होते रहने से जेल प्रशासन द्वारा की जाने वाली लापरवाही में काफी सुधार की गुंजाइश रहती है। जेल में निरीक्षण के बाद जेल अधीक्षक एसपी त्रिपाठी ने बताया कि अधिकारीगण व्यवस्था से संतुष्ट रहे। उन्हें जेल में किसी प्रकार की कोई कमी नहीं मिली है