बदहाल जिलाचिकित्सालय और बेफिक्र जनप्रतिनिधि 

गाजीपुर-जिलाचिकित्सालय की हालत इतनी बदतर बस कुछ पुछिये मत । नाम जिला चिकित्सालय लेकिन डाक्टरों का अभाव, दवा का अभाव , अलट्रासाउंड व सीटिस्कैन की मशीन तो है लेकिन आपरेटर का अभाव है। लोगों मे आंम धारण बनती जा रही है चिकित्सक मेडिकल स्टोरों से कमीशन के चक्कर मे बाहर की दवाओं को लिख रहे है। यही नही अट्रासाउंड और सीटिस्कैन के लिए भी डाक्टरों ने कमीशन बांध रख्खा है। यदि आप डाक्टर की लिखी पर्ची लेकर जाईयेगा तो अलट्रासाउंड और सीटिस्कैन का अलग फीस होगी और बीना डाक्टर के पर्ची के आप अलट्रासाउंड और सीटिस्कैन करायेंगे तो उसकी अलग फीस होगी। गाजीपुर के जनप्रतिनिधियों को जनता को हो रही परेशानी से कुछ लेना देना नही है।