भाई ही निकला , भाई का हत्यारा

326

गाजीपुर – गहमर थाना क्षेत्र के लहना गांव में हुई युवक की हत्या मामले का पुलिस ने खुलासा करते हुए हत्यारोपी को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। प्रेस वार्ता के दौरान पुलिस अधीक्षक सोमेन वर्मा ने बताया कि बीते 12/13 जून की रात्रि गांव के रहने वाले श्रीकांत यादव की हत्या कर कर्मनाशा नदी के तट पर उसका शव फेंक दिया गया था। बताया कि मामले की छानबीन के दौरान पता चला कि श्रीकांत यादव की हत्या उसके बड़े भाई रमाकांत सिंह यादव ने ही की थी। पुलिस ने हत्यारोपी रमाकांत यादव को गांव से बाहर जाने वाले रास्ते पर स्थित ईंट भट्टे के पास से गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार हत्यारोपी ने पूछताछ के दौरान बताया कि गृह कलह और संपत्ति विवाद को लेकर रोज लड़ाई झगड़ा होता था। इसी से तंग आकर मैंने अपने भाई को ठिकाने लगाने की योजना बनाई और वारदात की रात मैंने उसे शराब और ताड़ी पिलाकर ताड़ी काटने में प्रयोग किए जाने वाले हथियार हंसिया से मारकर हत्या कर दी और हत्या के बाद अपने पीठ पर लादकर उसके शव को कर्मनाशा नदी के तट पर फेंक दिया। पुलिस ने वारदात में शामिल हथियार भी बरामद कर लिया है। गिरफ्तार रमाकांत 164 मध्यम तोपखाना रेजिमेंट राजस्थान में हवलदार पद पर तैनात है।

Play Store से हमारा App डाउनलोड करने के लिए नीचे क्लिक करें- Qries