मायावती के 18 तारिख के रैलीयों का खर्च कौन उठायेगा ?

बहजन समाज पार्टी की सुप्रीमो और राष्ट्रीय अध्यक्ष कुमारी मायावती राज्यसभा की सदस्यता से स्तीफा देने के बाद उत्तर प्रदेश मे अपने खोये जनाधार को पाने के लिये 18 सितम्बर 2017 से  18 जून 2018 तक उत्तर प्रदेश के मंडलों को दौरा करेगी। मयावती प्रत्येक माह की 18 तारिख को दो मंडलो को रैलीयाँ करेगी। सब से बडा सवाल यह है कि माया की रैलीयों का खर्च कौन उठायेगा ? अब तक माया की रैलीयों का खर्च विधान सभा प्रभारी/प्रत्याशी मिल कर उठाते थे लेकिन अब अधिकांश विधान सभा प्रभारी ऐसा खतरा उठाने को तैयार नही है। बसपा के समर्रकों और कार्यकरताओं को माया के रैली स्थल तक पहुंचाने के लिये प्रत्येक विधान सभा प्रभारी को सेक्टर वार बस और चार पहिया वाहन की व्यवस्था करने मे कई लाख खर्च करने पडते थे। बदली परिस्थितीयों मे ये खर्च कौन उठायेगा , बहुत बडा सवाल है।