मोबाईल टावर लगवानें के नाम पर 7.50 लाख की धोखाधड़ी

गाजीपुर- मरदह थाना के गाई गांव निवासी इंटर कालेज के प्रवक्ता वीरेंद्र सिंह को जिओ मोबाइल का टावर लगवाने के नाम पर साढ़े सात लाख रूपये अपने बैंक खाते में ट्रांसफर करवाने के मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है।

5 मार्च को प्रथम बार वीरेंद्र सिंह के मोबाइल पर खुद को जियो कम्पनी का कर्मचारी बता के अज्ञात व्यक्ति ने फोन किया। उनकी जमीन का सर्वे के बाद टावर लगाने हेतु चयनित होने की जानकारी दिया। पुन: उन्हें एक बंैक खाता नम्बर बता के उसमे छह सौ रूपये रजिस्ट्रेशन के नाम पर जमा करने को कहा। वीरेंद्र स्िंाह द्वारा उक्त रूपये जमा करने के बाद टावर लगने की प्रक्रिया के तहत विभिन्न कार्यो को करने एवं एकमुश्त सिक्योरिटी धनराशि दिलाने के नाम पर 14 बार में चार बैक खातों में सात लाख बावन हजार साठ रूपये जमा करवा लिया । जब रूपये जमा करने के बाद भी टावर लगने में देर होने पर उक्त मोबाइल नम्बर पर फोन किया तो जालसाज ने अपना मोबाइल नम्बर स्वीच आफ कर दिया। वीरेन्द्र सिंह ने रूपये भेजने वाले बैंक खातों की जांच करवायी तो चार में दो बैंक खाते उन्नाव जनपद के और दो बैंक खाते बिहार प्रान्त के चंपारण जिले के बैको के निकले । मरदह थानाध्यक्ष सम्पूर्णानन्द राय ने बताया कि तहरीर के आधार पर धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कर प्रकरण की जांच की जा रही है।

Also Read:  गाजीपुर बर्थडे केक के जगह गरीबों को भोजन कराया