विधायकों का विरोध दरकिनार

गाजीपुर – विधायकों द्वारा घंटो धरने के बाद लाइन हाजिर दिलदारनगर थाना अध्यक्ष को आखिरकार लगभग सवा महीने बाद कोतवाली का चार्जर मिल ही गया है। नवली कांड के दौरान लाइन हाजिर हुए दिलदार नगर थानाध्यक्ष अखिलेश त्रिपाठी को जमानिया कोतवाली का कोतवाल बनाया गया है ।इस बाबत पुलिस कप्तान सोमेन वर्मा ने देर रात आदेश जारी कर दिया । जबकि जमानिया कोतवाल का पदभार संभाल रहे क्षितिज त्रिपाठी को क्राइम ब्रांच का प्रभारी बनाया गया है । 19 जून को हुए नवली कांड के बाद 20 जून को मोहम्मदाबाद विधायक अलका राय और जमानिया विधायक सुनीता सिंह के चक्का जाम करने के बाद थानाध्यक्ष दिलदारनगर अखिलेश त्रिपाठी को लाइन हाजिर कर दिया गया था। लेकिन घटना के 1 माह बाद अखिलेश त्रिपाठी को जमानिया का कोतवाल बनाए जाने पर हलकों में चर्चा है कि यह अखिलेश त्रिपाठी का डिमोशन नहीं प्रमोशन है।

Also Read:  गाजीपुर-नागरिक अपने मत का सदुपयोग करें-मिथिलेश सिंह गौतम