विरोध प्रदर्शन- जमानत कराने के पैसे के लिए भिक्षाटन

367

गाजीपुर – शासन द्वारा भदौरा रेलवे स्टेशन की उपेक्षा किए जाने से नाराज व्यापारियों ने एक जून को काला दिवस मनाते हुए पूरे बाजार की दुकानों को बंद रख कर अपना विरोध जताया था। आंदोलन की अगुवाई कर रहे हैं सामाजिक कार्यकर्ता राकेश सिंह पिंटू सहित पांच नामजद और सौ अज्ञात लोगों के खिलाफ पुलिस ने शांतिभंग में प्राथमिकी दर्ज की। इस बात की जानकारी पुलिस द्वारा 28 जून को भेजी गई नोटिस से हुई। मुकदमे की जानकारी होते ही व्यापारियों में शासन-प्रशासन के खिलाफ आक्रोश बढ़ गया। बैठक कर सभी व्यापारियों ने सामाजिक कार्यकर्ता राकेश सिंह पिंटू एवं उनके कई सहयोगियों के लिए जमानत के लिए लगने वाली धनराशि इकट्ठा करने की बात कही। पूर्व नियोजित कार्यक्रम के तहत राकेश सिंह के साथ अन्य लोगों ने बाजार की दुकानों पर भिक्षाटन किया। राकेश ने कहा कि बगैर जानकारी के उनके और उनके करीब कई साथियों खिलाफ शांति भंग करने का मामला दर्ज कर लिया गया है। इस मामले में तीन जुलाई को जमानत के लिए बुलाया गया है। पहले से मुकदमा दर्ज होने की जानकारी नहीं दी गई। पंकज गुप्ता ने कहा कि आंदोलन का उद्देश्य सरकार तक अपनी बात पहुंचाने का था, लेकिन प्रशासन द्वारा उन पर ही मुकदमा दर्ज कर लिया गया हैै। हम लोग कानून का पालन करने वाले लोग हैं। जमानत लेने के बाद इस मामले को ऊपर तक ले जाएंगे

Play Store से हमारा App डाउनलोड करने के लिए नीचे क्लिक करें- Qries