MLC विशाल सिंह चंचल ने , 50 हजार के ईनामियां संजय यादव को दिया ,उसी के भाषा मे जबाब

0
3241

image

गाजीपुर , कहानी की शुरुआत होती है 5 सितम्बर 2016 को । उस दिन गाजीपुर के ग्रामीण अभिंत्रण बिभाग मे लोहिया गाँवों के सी.सी. रोड के लिये निविदा पत्र बेचा जा रहा था । दिन के 11.30 विकास भवन स्थित निविदा बिक्री काउंटर पर 10 -15 युवको का समुह पहुंच कर हंगामा करने लगा । RES के कर्मचारियों के लाख समझने पर भी वे युवक नही माने और काउंटर के खिडकी का सीसा तोड डाला । मजबूरन पुलिस को फोन करना पडा , पुलिस को देखते ही वे युवक फरार हो गये । टेंडर खुलने पर अनुभव हीन युवको के द्वारा गलत टेंडर फार्म भरने के कारण , टेंडर फेल हो गया ।
कहानी मे कही झोल है —  दिनांक 3 सितंबर को बिक्री होने वाला टेंडर 5 को बिकता है । टेंडर पडता भी है ,और खुलता भी है। विशाल सिंह चंचल और संजय यादव के वायरल आडियो मे संजय यादव, चंचल से कह रहा है कि आप अपने आदमी से टेंडर फार्म वापस करा दो , 5 – 6 सितंबर की घटना को अब तूल दिया जाना और शुक्रवार 9 सितंबर को टेंडर वापस करने की बात करना समझ से परे है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here